मध्य प्रदेश में बलात्कार के अपराध में फांसी की सजा


डीकेएस डेस्क, नयी दिल्ली,
रेप के मामलों में दोषियों के खिलाफ सख्त सजा देने को लेकर मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। कैबिनेट की बैठक में 12 साल तक की बच्चियों से रेप के मामले में दोषियों के खिलाफ फांसी की सजा पर मुहर लगा दी है।
शिवराज कैबिनेट ने रविवार, 26 नवम्बर को फैसला लिया कि अब राज्य में 12 साल या इससे कम उम्र के नाबालिगों से रेप के दोषियों को फांसी की सजा दी जाएगी। शिवराज कैबिनेट की बैठक में दंड विधि संशोधन विधेयक 2017 पर चर्चा हुई। विधेयक के जरिए महिलाओं से छेड़छाड़ के आरोपियों की सजा में इजाफा करने का प्रस्ताव है। इसके साथ ही कैबिनेट ने गैंगरेप के मामले में दोषियों को मौत की सजा देने के लिए एक प्रस्ताव भी पास कर दिया है। रेप के दोषियों के खिलाफ जुर्माने और सजा को बढ़ाने के लिए दंड संहिता में संशोधन के प्रस्ताव को भी शिवराज सरकार ने हरी झंडी दे दी है।
विधानसभा में पारित होने के बाद राज्य सरकार इसे मंजूरी के लिए केंद्र सरकार के पास भेजेगी। सोमवार 27 नवम्बर से मध्य प्रदेश विधानसभा का शीतकालीन सत्र शुरू हो रहा है।

लेखक के बारे में

उत्तर छोड़ दें