सबने साथ-साथ खायी खिचड़ी


– वीरेन्द्र गुप्ता, लखनऊ 14 जनवरी 2018. मकर संक्रांति के अवसर पर इंसानी बिरादरी, शोल्डर टू शोल्डर, आवाम मूवमेंट और मुस्लिम वेलफेयर सोसायटी ने इंदिरा नगर सेक्टर सी में सबके साथ खिचड़ी का आयोजन किया. इंदिरानगर, मुंशी पुलिया व आस-पास के क्षेत्र वासियों समेत विभिन्न सामजिक-राजनीतिक संगठनों के लोगों ने साथ-साथ खिचड़ी खाई.
शामिल लोगो ने कहा कि पूरे दुनिया में भारतीय समाज अपनी अनेकता में एकता के लिए जाना जाता है. सभी समुदाय के लोग एक-दूसरे के साथ हमेशा सुख-दुःख में खड़े रहे हैं लेकिन लगातार समुदायों के बीच मतभेद बढ़ रहा है इसलिए जरुरी है कि समाज के बीच आत्मीय सम्बन्ध बने. खान-पान के नाम पर घृणा फैलाकर इन्सान को इन्सान के खिलाफ खड़ा किया जा रहा है. जबकि मुल्क में लोग भुखमरी से मर रहे हैं. मिलजुलकर खिचड़ी खाकर लोगों ने सन्देश दिया की खान-पान के नाम पर हम सब एक जुट होकर गैरबराबरी और भेद भाव के खिलाफ हैं.
कार्यक्रम में शामिल लोगों ने खिचड़ी के बारे में कहा कि खिचड़ी श्रमिकों और मजदूर-किसानों का त्यौहार रहा है लेकिन पूरे देश में किसान और मजदूरों की स्थिति खराब है. भूख से लोगों की मौत हो रही है. एक समाज बतौर यह शर्मनाक बात है हम सबको इसके खिलाफ खड़े होने की जरुरत है.
कार्यक्रम में मौलाना कल्बे सादिक, रिहाई मंच अध्यक्ष मुहम्मद शोएब, जस्टिस एस सी वर्मा ,मुहम्मद अली रिजवी, सृजनयोगी आदियोग, रणधीर सिंह सुमन, लक्ष्मण प्रसाद, शाहनवाज आलम, सतेयेंद्र कुमार, रिफत फातिमा, असगर मेहदी, अतहर हुसैन, राशिद, तारिक दुर्रानी, धर्मेंन्द, लालजीत अहीर, त्रिलोचन, डाक्टर मंजूर, अलोक मिश्र, युसरा हुसैन नकवी, राबिन, शम्स तबरेज, शबरोज मोहम्द्दी, अजय शर्मा, नूर आलम, जिया, शिरीष, अमित, इमरान अंसारी, हीरालाल यादव, आकिल, लाल जीत अहीर, राधे यादव, सचिन गुप्ता, संयोग वाल्टर, मनोज, ए बी सोलोमन, भूपेंद्र सिंह, प्रबुद्ध गौतम, संघलाता, अरु, ऋषि सिंह, देवना जोशी और अनिल यादव मौजूद थे.

लेखक के बारे में

उत्तर छोड़ दें