सपने में भी नहीं सोचा था कि एक सांसद ऐसे मामले में घिरेंगे : मंत्री

Image result for सांसद रविन्द्र गायकवाड़ को एयरलाइंस अधिकारी

नयी दिल्ली, 27 मार्च : भाषा : शिवसेना के सांसद रविन्द्र गायकवाड़ को एयरलाइंस अधिकारी के साथ कथित र्दुव्‍यवहार को लेकर सभी एयरलाइंस द्वारा उन पर प्रतिबंध लगाए जाने के मामले में नागर विमानन मंत्री अशोक गजपति राजू ने आज लोकसभा में कहा कि उन्होंने सपने में भी नहीं सोचा था कि एक सांसद ऐसे मामले में घिरेंगे।

साथ ही उन्होनंे कहा कि एयरलाइंस की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं किया जा सकता।

गजपति राजू ने साथ ही कहा कि डीजीसीए : नागर विमानन महानिदेशालय : के नियम एयरलाइंस की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता पर रखते हैं और किसी भी प्रकार की हिंसा एयरलाइंस के लिए भीषण आपदा हो सकती है।

उन्होंने साथ ही कहा कि डीजीसीए को यह अधिकार प्राप्त है कि वह किसी भी यात्री का व्यवहार नियमानुरूप नहीं होने पर उसे विमान यात्रा करने से रोक सकती है।

गजपति राजू ने कहा, ‘‘ एक सांसद भी एक यात्री है और किसी भी यात्री से अलग श्रेणी के आधार पर भेदभाव नहीं किया जाता है।’’ उन्होंने कहा कि एयरलाइंस ने जो कदम उठाया वह सुरक्षा के मद्देनजर उठाया गया और एयरलाइंस की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं किया जा सकता।

मंत्री के जवाब से संतुष्ट होकर इस मुद्दे को उठाने वाले शिवसेना सांसद आनंद राव अड़सूल पार्टी के अन्य सदस्यों के साथ आसन के समक्ष आ गए।

अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सदस्यों से अपनी सीटों पर जाने की अपील की और साथ ही कड़े शब्दों में कहा, ‘‘ आप लोग गलत बात का समर्थन कर रहे हैं। अड़सूल इस मुद्दे को उठाना चाहते थे इसलिए उन्हें अनुमति दी गयी और मंत्री उसका जवाब दे चुके हैं। ’’ उन्होंने कहा कि इस सदन में कोई भी एक जनप्रतिनिधि के ऐसे व्यवहार का समर्थन नहीं करेगा। इस बात को सभी समझते हैं। उन्होंने कहा कि सदस्यों के आसन के समक्ष आने से देश में कोई अच्छा संदेश नहीं जाएगा।

लेखक के बारे में

उत्तर छोड़ दें