जन धन खातों के प्रबंधन पर स्टेट बैंक ने 775 करोड़ रुपए खर्च किये: सरकार

Image result for jan dhan yojna + sbi

भाषा : सरकार ने आज उच्च सदन को बताया कि भारतीय स्टेट बैंक :एसबीआई: द्वारा जन धन खातों परिचालन की कुल लागत 774.86 करोड़ रपये है।
वित्त राज्यमं़त्री संतोष गंगवार ने एक प्रश्न के लिखित उत्तर में राज्यसभा को बताया, ै प्रधानमंत्री जन धन खातों :पीएमजेडीवाई: के परिचालन की कुल लागत के बारे में वर्ष वार और बैंक वार सूचना नहीं रखी जाती है। हालांकि भारतीय स्टेट बैंक द्वारा 31 दिसंबर 2016 की स्थिति के बारे में दी गई सूचना के अनुसार जन धन योजना :पीएमजेडीवाई: के परिचालन की उसकी कुल लागत 774.86 करोड़ रपये है। ै अलग से दिये एक उत्तर में मंत्री ने कहा कि नौ नवंबर 2016 की स्थिति के अनुसार ‘शून्य बैलेंस’ वाले जन धन खातों की संख्या 5.93 करोड़ थी और 28 दिसंबर 2016 को यह संख्या 6.32 करोड़ थी।

उन्होंने कहा, ै पीएमजेडीवाई में नौ नवंबर 2016 की स्थिति के अनुसार पीएमजेडीवाई में जमा शेष की मात्रा 45,636 करोड़ रपये थी जो 28 दिसंबर 2016 को 71,036 करोड़ रपये थी। ै एक अन्य प्रश्न के उत्तर में गंगवार ने कहा कि सार्वजनिक बैंकों, ग्रामीण बैंकों और 13 निजी बैंकों ने सूचना दी है कि 24 मार्च 2017 तक की स्थिति के अनुसार पिछले एक वर्ष में लेन देन न होने के कारण पीएमजेडीवाई के तहत 92,52,609 खातों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

लेखक के बारे में

उत्तर छोड़ दें