अध्यक्ष और राजपा विधायक में आज फिर नोंकझोंक

भाषा: राजस्थान विधानसभा में अध्यक्ष कैलाश मेघवाल और राजपा विधायक डॉ किरोड़ी लाल मीणा के बीच व्यवस्था को लेकर आज फिर तीखी नोंकझोंक हुई ।
शून्यकाल में राजपा विधायक डॉ किरोड़ी लाल मीणा स्थगन प्रस्ताव के माध्यम से सत्ताधारी पार्टी :भाजपा: की एक दलित महिला विधायक को लेकर बोलना चाहते थे लेकिन अध्यक्ष ने अनुमति नहीं दी। डॉ मीणा व्यवस्था पर नाराजगी जताते हुए अपनी बात कहते रहे।

अध्यक्ष ने कहा कि सदन नियमों से चलता है, किसी व्यक्ति को इसे तोडने की अनुमति नहीं दी जाएगी। अध्यक्ष और राजपा विधायक के बीच व्यवस्था के मुददे पर कुछ देर तक तीखी नोंकझोंक होती रही ।

नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी ने अध्यक्ष की अनुमति से बोलना शुरू किया। भाजपा विधायक चन्द्रकांता मेघवाल का जिक्र आते ही अध्यक्ष ने कार्यवाही अंकित नहीं करने के निर्देश दिये ।

संसदीय कार्यमंत्री राजेन्द्र राठौड़ ने राजपा विधायक डॉ किरोड़ी लाल मीणा के आरोपों को बेबुनियाद बताया ।

गौरतलब है कि कल भी अध्यक्ष और राजपा विधायक डॉ किरोड़ी लाल मीणा के बीच तीखी नोंकझोंक हुई थी।

डॉ मीणा ने बाद में विधानसभा परिसर में संवाददाताओं से बातचीत करते हुए संसदीय कार्य मंत्री राजेन्द्र राठौड़ पर दलित भाजपा विधायक चन्द्रकांता मेघवाल को सदन में नहीं आने के लिए धमकाने के आरोप लगाये। उन्होंने कहा, ‘‘प्रदेश में दलितों पर जबरदस्त अत्याचार हो रहे हैं। मैं यह मामला सदन में स्थगन प्रस्ताव के माध्यम से उठाना चाहता था लेकिन अध्यक्ष ने मुझे इसकी अनुमति नहीं दी।’’

लेखक के बारे में

उत्तर छोड़ दें